पुजारी बनना है तो पास करना होगी परीक्षा, कमलनाथ सरकार का फैसला

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 201

Bhopal: 6 फरवरी 2019। पुजारियों की नियुक्ति के बारे में इससे पहले तब विवाद खड़ा हो गया था जब शिवराज सरकार ने सभी वर्गों के लोगों की नियुक्ति के लिए प्रस्ताव दिया था.

मध्य प्रदेश सरकार ने मंदिर-मठ और देवस्थानों में पुजारियों की नियुक्ति के मानक तय कर दिए हैं. पुजारियों की नियुक्ति वंश के आधार पर होगी और इसके लिए पूजा विधि का प्रमाण पत्र परीक्षा पास करना ज़रूरी होगा. सरकार का ये फैसला हिंदू मंदिरों के साथ उन सभी धार्मिक स्थानों के लिए है जहां पूजा होती है.

मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अपना एक और वचन पूरा करते हुए मंदिरों में पुजारियों की नियुक्ति के मानक तय किए हैं. नए मानकों के मुताबिक पुजारियों की नियुक्ति वंश परंपरा के आधार पर होगी. पुजारी की नियुक्ति के लिए कम से कम आठवीं पास होना ज़रूरी है.

सरकार ने पुजारियों के लिए जो मानक तय किए हैं उसमें -
-पुजारियों की नियुक्ति वंश परंपरा के आधार पर होगी
-कोई भी मांसाहारी या शराबी, मंदिर का पुजारी नहीं बन सकेगा

Related News

Latest Tweets