कितना वायु प्रदूषण है किस चौराहे पर, करें एलईडी पर डिस्पले

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: PDD                                                                         Views: 411

Bhopal: 22 दिसम्बर 2016, रोशनपुरा तिराहे और एमपी नगर चौराहे पर सबसे ज्यादा वायु प्रदूषण होता है। यह प्रदूषण दोपहर 3 बजे से रात्रि 8 बजे तक होता है। इसकी जानकारी आम जनता को देना जरूरी है, तभी यहां प्रदूषण कम होगा। शहर के किस चौराहे और तिराहे पर कितना वायु प्रदूषण हो रहा है। इसकी जांच करने के लिए उपकरण लगाया जाए तथा प्रदूषण की स्थिति एलईडी के जरिए चौराहे पर ही डिस्प्ले की जाए, ताकि लोग वायु प्रदूषण कम करने की दिशा में पहल कर सकें। सर्वाधिक वायु प्रदूषण वाले तिराहे और चौराहों व अन्य स्थानों पर ही यह एलईडी डिस्प्ले लगाए जाए। यह निर्देश संभागायुक्त अजातशत्रु श्रीवास्तव ने बुधवार को भोपाल नगर में प्रदूषण नियंत्रण के लिए गठित समिति की बैठक में दिए। बैठक में निर्णय लिया गया कि आमजन शहर में वायु प्रदूषण सम्बधी शिकायतें सीएम हैल्प लाइन नंम्बर-181 पर करा सकेंगे तथा भोपाल नगर के प्रमुख स्थानों पर वायु की गुणवत्ता जांचने के उपकरण लगाएं जाएंगे। उनके परिणाम प्रदूषण नियंत्रण मंडल की वेब साइट पर डाले जाएंगे। बैठक में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी ने एलईडी डिस्प्ले के लिए बजट उपलब्ध न होने की बात कही, लेकिन संभागायुक्त ने कहा कि इस समस्या को सुलझाएं। बैठक में मप्र प्रदूषण मंडल, पुलिस, नगर निगम सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।


- संभागायुक्त ने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को दिए निर्देश
- सर्वाधिक प्रदूषण वाले तिराहो, चौराहों पर लगाए जाएंगे प्रदूषण जांच करने उपकरण व एलईडी डिस्पले
- शहरवासी अब सीएम हेल्पलाइन में भी कर सकेंगे वायु प्रदूषण की शिकायत


नगर निगम के वाहन और मिनी बसें बढ़ा रही पॉल्यूशन
संभागायुक्त ने बैठक में नगर निगम की अपर आयुक्त मलिका निगम नागर को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि विभाग के वाहन ही वायु प्रदूषण बढ़ा रहे हैं। पहले इनका प्रदूषण कम किया जाए। शहर में दौड़ रही मिनीबस व ऑटो पाल्यूशन को बढ़ावा दे रहे हैं। इन पर लगाम लगाई जाए। ऐसे पुराने वाहन जो काला धुआं छोड़ रहे हैं, उनकी जांच की जाए।

यह भी दिए निर्देश -
- नगर निगम निजी कालोनाइजर को बिल्डिंग निर्माण की अनुमति तभी दें, जब उनके पास वायु प्रदूषण रोकने के पुख्ता इंतजाम हों।
- नगर निगम देखे कि कालोनी निर्माण के बाद प्रदूषण नियंत्रण की व्यवस्था उस कालोनी में है कि नहीं ?
- सड़कों के किनारे ऐसी प्रजातियों के पेड़ लगाएं, जो घने और छायादार हों तथा यातायात में बाधक न बनें।
- भोपाल नगर को साफ सुथरा बनाए रखने जागरूकता अभियान चलाएं।
- शहर के लोगों को प्रदूषण रोकने के लिए प्रेरित करें।
- वाहनों से होने वाले प्रदूषण की नियमित जांच की जाए।
- भानपुर खंती बंद करने की कार्यवाई की जाए।
- नगर निगम मोबाइल कोर्ट के माध्यम से गैर पार्किंग क्षेत्र में खड़े वाहनों की जांच कर उनके चालान बनाएं।
- ऐसे दुकानदारों पर कार्रवाई करें, जो अपनी दुकानों के आगे वाहन खड़े करते हों।
- खुले में कचरा जलाने वालों पर भी कार्रवाई की जाए।

Related News

Latest Tweets