ट्रंप को पद से हटाने के लिए 'जादू-टोना'

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 666

Bhopal: अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के अधिकतर विरोधियों को लगता है कि ट्रंप के व्हाइट हाउस से जाने के लिए उन्हें चार साल इंतज़ार करना होगा. लेकिन अमरीका में 'जादू-टोना' पर यक़ीन करने वाली महिलाएं शायद ऐसा नहीं मानतीं.

आधी रात बारह बजे अमरीका में 'जादू-टोने' पर विश्वास रखने वाले लोगों ने ट्रंप को पद से हटाने के लिए 'सामूहिक अनुष्ठान' किया.
फ़ेसबुक पर इस 'सामूहिक जादू-टोने' से जुड़े ग्रुप से अब तक दस हज़ार से अधिक लोग जुड़ चुके हैं.

सोशल मीडिया पर इस सिलसिले में #magicresistance का हैशटैग भी चलाया जा रहा है. हालांकि इस 'सामूहिक जादू-टोने' ने रूढ़िवादी ईसाइयों का ग़ुस्सा बढ़ा दिया है. उन्होंने 'डायनों' पर आध्यात्मिक युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया है.

website hacked

'जादू-टोना'
ये 'जादू-टोना' करने वाले लेखक माइकल हजेस ने अपने 'अनुष्ठान' का वीडियो ऑनलाइन पोस्ट करते हुए लिखा है कि उन्होंने 'जादू-टोने' से जुड़े कई निजी समूहों में ऐसे कई वीडियो देखे हैं.

'जादू-टोने' के दौरान बुदबुदाए जाने वाले शब्दों में 'देवताओं' से डोनल्ड ट्रंप को 'बांधने' का आग्रह करते हुए कहा गया है, "ट्रंप के कपटी कारनामे बुरी तरह नाकाम हो और वो हमारी राजनीति को न तोड़ सकें, आज़ादी को न छीन सकें और हमारे दिमाग़ों में नफ़रत, असमंजस, डर और उदासी न भर सकें."

'जादू-टोना' करने वाले लोगों के कहना है कि वो ट्रंप के पद छोड़ने तक इसे करते रहेंगे. वहीं रूढ़ीवादी ईसाइयों ने इस 'जादू-टोने' का तोड़ निकालने के लिए प्रार्थना करने की अपील की है.

ट्रंप के समर्थक पादरी जोसुआ फ्यूरेस्टीन ने कहा कि ये 'जादू-टोना' ईसा मसीह के नाम से ज़्यादा ताक़तवर नहीं है.

वहीं क्रिश्चियन नेशनलिस्ट अलायंस ने लोगों से 24 फ़रवरी को सामूहिक प्रार्थनाएं करने के लिए कहा. अभी तक ट्रंप ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है.

- बीबीसी

Related News

Latest Tweets