लंदन हमला- हमलावर ब्रिटेन में पैदा हुआ, आईएस ने ली ज़िम्मेदारी

Location: New Delhi                                                 👤Posted By: DD                                                                         Views: 516

New Delhi: लंदन में संसद के सामने गुरुवार को हुए हमले के बाद ब्रिटेन के सुरक्षा बलों ने देर रात बर्मिंघम शहर में छापेमारी की और आठ लोगों को गिरफ़्तार कर लिया.

अभी तक छह जगहों पर छापेमारी की गई है. इस हमले में पांच लोग मारे गए और 29 लोग घायल हैं जिनमें से सात की हालत गंभीर है.
प्राप्त जानकारी के अनुसार इस्लामी चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इस हमले को अंजाम देने का दावा किया है.

समाचार एजेंसियों के अनुसार समाचार एजेंसी अमाक़ के मुताबिक आईएस के एक सैनिक ने विस्टमिंस्टर पर हमला किया.
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने संसद में कहा, ये हमलावर अकेले ही काम कर रहा था और अभी तक ऐसा मानने के कोई कारण नहीं है कि तत्काल और हमले हो सकते हैं. हमलावर ब्रिटेन में पैदा हुआ था और कुछ साल पहले ख़िफ़िया एजेंसी एमआई-5 ने उसके बारे में जांच की थी. हालांकि, वर्तमान में वो ख़ुफ़िया एजेंसियों की उस पर नज़र नहीं थी.

उधर बर्मिंघम में सुरक्षा बलों ने दुकानों की एक क़तार के ऊपर दूसरी मंजिल के एक फ्लैट में धावा बोला था.

लंदन के कार्यवाहक उप कमिश्नर और आतंकवाद निरोधी प्रमुख मार्क रॉले ने कहा है कि पीड़ित अलग-अलग देशों से हैं.

क्या हुआ?
22 मार्च बुधवार को लंदन में दोपहर 2 बजकर 40 मिनट पर (भारतीय समय रात 8 बजकर 10 मिनट) एक हमलावर ने संसद के पास टेम्स नदी पर बने पुल वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर तेज़ी से कार दौड़ा दी.
इसमें कम-से-कम दो लोग मारे गए और कई लोग घायल हो गए.
इसके बाद यह कार संसद के बार की रेलिंग से जा भिड़ी.

हमलावर कौन था? क्या वो अकेला था?
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने कहा है कि केवल एक हमलावर था.

उन्होंने संसद में कहा- ये हमलावर अकेले ही काम कर रहा था और अभी तक ऐसा मानने के कोई कारण नहीं है कि तत्काल और हमले हो सकते हैं. हमलावर ब्रिटेन में पैदा हुआ था और कुछ साल पहले ख़िफ़िया एजेंसी एमआई-5 ने उसके बारे में जांच की थी.
पुलिस का कहना है कि वो हमलावर के सहयोगियों के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं.

पुलिस ने ये भी कहा है कि संसद के बाहर हुए हमले का संबंध इस्लामी कट्टरता से हो सकता है.

हाथ में चाकू लिए हमलावर बाहर निकला और संसद परिसर में घुसने की कोशिश की.
पुलिस ने उसे रोका. एक पुलिसकर्मी को उसने चाकू मार दिया जिससे उसकी मौत हो गई.

उस पुलिसकर्मी के पास कोई हथियार नहीं था.
इसके बाद दूसरे हथियारबंद पुलिसकर्मियों ने हमलावर को गोली मार दी.

अभी तक केवल मारे गए पुलिसकर्मी का नाम ज़ाहिर किया गया है.
48 वर्षीय पुलिस कॉन्स्टेबल कीथ पामर 15 साल से पुलिस सेवा में थे.
घायलों में तीन और पुलिसकर्मी शामिल हैं जो एक समारोह से लौट रहे थे और वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर चल रहे थे.
इनमें दो की हालत चिंताजनक बताई जा रही है.




News



वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर घायल हुए लोगों में दक्षिण कोरिया के पाँच पर्यटक और रोमानिया के दो नागरिक शामिल हैं.
लंकाशर की एक यूनिवर्सिटी के चार छात्र भी घायल हुए हैं.
एक स्कूल ट्रिप पर लंदन आए फ़्रांस के तीन बच्चे भी घायल हैं.



News



एक महिला को टेम्स नदी से बचाया गया. वो गंभीर रूप से घायल है.
अभी ये स्पष्ट नहीं है कि वो पुल से नदी में कैसे गिरी.
एक फ़ोटोग्राफ़र ने बताया कि उसने एक व्यक्ति को पुल से नीचे फ़ुटपाथ पर गिरते हुए देखा.

हमले के वक़्त संसद की कार्यवाही चल रही थी, जिसे स्थगित कर दिया गया.
राजनेताओं, पत्रकारों और आगंतुकों को लगभग पाँच घंटे तक संसद से बाहर नहीं जाने दिया गया.
संसद से लेकर पास की वेस्टमिंस्टर ऐबे चर्च से सैकड़ों लोगों को सुरक्षित दूसरी जगहों पर ले जाया गया.

गुरुवार को संसद की दोनों सदनों की बैठक नियमित समय पर ही शुरू होगी.
लंदन के मेयर ने कहा है कि आनेवाले कुछ दिनों में लंदन की सड़कों पर हथियारबंद और बिना हथियार वाले पुलिसकर्मियों की गश्त बढ़ा दी जाएगी.



News



ब्रिटेन में ख़तरे की आशंका को बढ़ाकर सीवियर (अति गंभीर) घोषित कर दिया गया है.
इसका मतलब है कि वहाँ हमले होने की आशंका बहुत ज़्यादा है.



Source: बीबीसी

Related News

Latest Tweets

Latest News