मध्य प्रदेश भाजपा की कमान सांसद राकेश सिंह को....

Location: Bhopal                                                 👤Posted By: Admin                                                                         Views: 1174

Bhopal: नाटकीय घटनाक्रम में अंतिम समय मे हुआ निर्णय
तीन दशकों बाद महाकोशल से चुना गया प्रदेश अध्यक्ष

18 अप्रैल 2018। चुनाव से पहले मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बदले जाने की अटकलों पर अब विराम लग चुका है। नंदकुमार सिंह चौहान इस्तीफा दे चुके हैं और नए अध्यक्ष के लिए जबलपुर सांसद राकेश सिंह के नाम पर सहमति बन गई है। हालांकि नए अध्यक्ष के लिए दिग्गज नेता नरेंद्र सिंह तोमर, नरोत्तम मिश्रा और राजेंद्र शुक्ला के नाम पर भी चर्चा हुई। अंतिम समय तक नरोत्तम मिश्रा को अध्यक्ष बनाये जाने की चर्चा रही। अंत में राकेश सिंह का नाम तेजी से सामने आया और उनके नाम पर सहमति बन गई। राकेश सिंह लोकसभा में भारतीय जनता पार्टी के चीफ व्हिफ भी हैं।

प्रदेश प्रभारी और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे ने पुष्टि करते हुए बताया है 2018 विधानसभा चुनाव के लिए जबलपुर के सांसद राकेश सिंह बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष होंगे। वहीं केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर प्रदेश चुनाव अभियान समिति के संयोजक बनाये गए हैं।

राजनीति का लंबा अनुभव, मजबूत नेतृत्व है पहचान

राकेश सिंह जबलपुर से तीन बार सांसद रहे हैं। राकेश सिंह 2004 से जबलपुर संसदीय सीट से सांसद हैं। 2014 में वो तीसरी बार लोकसभा पहुंचे हैं। अब चुनाव से पहले राकेश सिंह को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। उन पर बीजेपी के लिए एंटी इनकंबेंसी जेसे माहौल को खत्म करने की जिम्मेवारी होगी, वहीं संगठन और सत्ता के बीच तालमेल बनाने की भूमिका राकेश सिंह को निभानी होगी। राकेश सिंह को मजबूत संगठनात्मक कौशल रखने वाले व्यक्ति के रूप में जाना जाता है। वह महाराष्ट्र बीजेपी के भी प्रभारी हैं. वह विभिन्न संसदीय समिती के सदस्य भी हैं। राकेश सिंह सीएम शिवराज सिंह चौहान, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाते हैं।

जानिये नए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के बारे में

-राकेश सिंह जबलपुर से तीन बार सांसद रहे हैं।

-पहली बार 2004 मे कांग्रेस के विश्वनाथ दुबे को 97000 से हराया

-2008 में रामेस्वर नीखरा को 106000 वोट से,

-2014 में विवेक तन्खा को 208000 वोट से,

-घर मे पत्नी के अलावा 2 बच्चियां,माता और छोटा भाई

-मूलतः जबलपुर के रहने वाले

-टिम्बर व्यवसाय के अलावा किसान,

-2001 से 2004 तक ग्रामीण जिला अध्यक्ष जबलपुर

-2004 से लगातार सांसद

- राकेश सिंह की उपलब्धि- रेल सुविधा बड़ी

-जबलपुर से देश के हर कोने में हवाई सुविधा

-शहर को बड़े फ्लाई ओवर ब्रिज की सौगात

-2010 में प्रदेश के महामंत्री

-5 दिसम्बर को माला सिंह से हुआ था विवाह


ऐसे चला घटनाक्रम

लम्बे समय से प्रदेश अध्यक्ष के बदले जाने की अटकले चल रही थी| इस बीच मंगलवार को एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के बयान के बाद सरगर्मियां तेज हो गयी और तेजी से राजनीतिक घटनाक्रम बदलता रहा। इस बीच सीएम ने दोपहर बाद फिर एक बयान दिया और कहा कि प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने उन्हें इस्तीफे की पेशकश की है। इसके बाद प्रस्तावित कोर कमेटी की बैठक में सभी वरिष्ठ नेता पहुंचे। पार्टी की कोर कमेटी की बैठक के साथ ही शाम को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के बंगले पर भी कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र सिंह और रामपाल सिंह के साथ बैठकों का दौर चलता रहा। इस बीच भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान देर शाम कोर कमेटी की बैठक में शामिल होने प्रदेश भाजपा कार्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि लोकसभा चुनाव के लिए समय कम बचा है, इसलिए मैंने इस्तीफा केंद्रीय संगठन को भेज दिया है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री को सूचित कर दिया है। अब मैं अपने क्षेत्र पर ध्यान दूंगा। बैठकों के सिलसिले के बीच आखिरी दौर में मंत्री नरोत्तम मिश्रा का नाम फाइनल होने की चर्चा रही। लेकिन सीएम शिवराज सिंह चौहान आलाकमान के सामने राकेश सिंह को अपनी पसंद के तौर पर रखने में सफल हो ही गए।

डॉ.नवीन जोशी

Related News

Latest Tweets